स्तम्भ menu

Drop Down MenusCSS Drop Down MenuPure CSS Dropdown Menu

गुरुवार, 7 नवंबर 2013

doha salila: sanjiv

प्रयोगात्मक यमकीय दोहे:
संजीव
*
फेस न करते फेस को, छिपते फिरते नित्य
बुक न करे बुक फोकटिया, पाठक सलिल अनित्य
*
सर! प्राइज़ किसको मिला, अब तो खोलें राज
सरप्राइज़ हो खत्म तो, करें शेष जो काज 
*
 

कोई टिप्पणी नहीं: