स्तम्भ menu

Drop Down MenusCSS Drop Down MenuPure CSS Dropdown Menu

रविवार, 1 जून 2014

jabalpur darshan :

जबलपुर दर्शन :
फ़ोटो: Balancing rock...
like and share...
कौआ डोल चट्टान: बैलेंस्ड रॉक
तस्वीर
मदनमहल : गोंडकालीन सुरक्षा चौकी
फ़ोटो: Share and Like if u have been here....
घंटाघर


सदर बाजार:  अंग्रेज काल में

रेलवे स्टेशन
फ़ोटो: Near Bargi
Like and share...
नर्मदा तट पर मेघदूत
फ़ोटो: WOW :D
संगमरमरीव्दियों में नर्मदा प्रवाह
























Jabalpur my Hometown.
भैड़ाघाट की संगमरमरी शिलाएं
फ़ोटो: guess d name of the place??
रोप वे भेड़ाघाट
तस्वीर
ट्राली से धुआंधार दर्शन
तस्वीर
धुआंधार जलप्रपात
फ़ोटो: pariyat
परियट नदी
तस्वीर
फ़ोटो: Like, comment and share...
नर्मदा पर प्रथम बाँध: बरगी बांध

तस्वीर
शिव प्रतिमा कचनार
फ़ोटो: lets see who can recognize this place....

Start COMMENTING !!
भंवरताल उद्यान: ओशो की ध्यानस्थली
फ़ोटो: HATS OFF !
विनोबा जी के शब्दों में संस्कारधानी
फ़ोटो: Madan Mahal underbridge
मदन महल स्टेशन अंडर ब्रिज
तस्वीर
बरसात आनंद या विभीषिका?
फ़ोटो: its Jbp meri jaan......
विद्यत्प्रदाय केंद्र
फ़ोटो: koi toh pehchano?
आकाशवाणी केंद्र
फ़ोटो: Near 4th bridge at 6:30am.

 Photo Courtesy: Sukhdeep Rathore
मौसम है आशिक़ाना?
फ़ोटो: Records made!
जांबाज़ जवान: डेयर डेविल्स
फ़ोटो: Photo Shared By :- @Ramanuj Nanhoriya....!! :)(:

15 टिप्‍पणियां:

s.n. sharma kamal ने कहा…

sn Sharma ahutee@gmail.com [eChintan

Kusum Vir via yahoogroups.com ने कहा…

Kusum Vir kusumvir@gmail.com [eChintan]

आ० आचार्य जी,
जबलपुर के विभिन्न मनोरम स्थलों का दर्शन कराने के लिए आपका बहुत धन्यवाद l
सादर,
कुसुम

sanjiv ने कहा…

कुसुम जी
जबलपुर दर्शन हेतु सपरिवार पधारिये.

Kusum Vir via yahoogroups.com ने कहा…

Kusum Vir kusumvir@gmail.com [eChintan] wrote:


निमंत्रण के लिए बहुत आभार, आ० आचार्य जी l
सादर,
कुसुम

Ram Gautam gautamrb03@yahoo.com ने कहा…

Ram Gautam gautamrb03@yahoo.com [eChintan]

आ. आचार्य संजीव 'सलिल' जी,

जबलपुर का पुनः २४ चित्रों के द्वारा अवलोकन हुआ, १९७५ की यादें फिर
जबलपुर के धुँआंधार, बंदर कूदनी ( जहां संत ज्ञानेश्वर' फिल्म की सूटिंग
हुई थी), घंटाघर, रेलवे स्टेशन, चौसठ जोगिनी का मंदिर, बाई की बगिया
के पास की खोये की बनी जलेबियाँ तथा पहाड़ों पर मंदिर आदि अभी भी
याद हैं | कभी समय हुआ तो पुनः जाने का मन बनाऊँगा |

नर्मदा तट का अनुपम दृश्य जहा पत्थर में दरारें होने के कारण पास जाने में
दर लगता था | आपका बहुत- बहुत आभार |
सादर- गौतम

sanjiv ने कहा…

apka man tript huaa to mujhe neelkanth darsh ka punya milega hi.

'Dr.M.C. Gupta' mcgupta44@gmail.com ने कहा…


'Dr.M.C. Gupta' mcgupta44@gmail.com [eChintan]

Thanks for the Jabalpur Jhanki.

--M C Gupta

sanjiv ने कहा…

आपकी सराहना सम्बल. धन्यवाद

sanjiv ने कहा…

आदरेय कमल जी
जबलपुर पधारकर माँ नर्मदा के दर्शन कर हमें कृतकृत्य करें.

vijay3@comcast.net ने कहा…

vijay3@comcast.net [eChintan]

आचार्य जी,

इतने सुन्दर चित्रों द्वारा हमें जबलपुर से परिचित कराने के लिए आपका हार्दिक धन्यवाद।

देखते गए, और मन किया कि और भी हों। सच, बहुत धन्यवाद।

सादर,

विजय निकोर

manju mahima ने कहा…


मंजु महिमा manjumahimab8@gmail.com [eChintan

salil ji,
हल्दी लगी ना फिटकरी और रंग चोखा आया. घर बैठे ही आपने जबलपुर की सैर करवा दी...आनंद मिला सुंदर चित्रों के साथ...
धन्यवाद..
सादर
मंजु महिमा.

manju mahima ने कहा…


मंजु महिमा manjumahimab8@gmail.com [eChintan

salil ji,
हल्दी लगी ना फिटकरी और रंग चोखा आया. घर बैठे ही आपने जबलपुर की सैर करवा दी...आनंद मिला सुंदर चित्रों के साथ...
धन्यवाद..
सादर
मंजु महिमा.

Ravindra Munshi ने कहा…

Ravindra Munshi munshiravi@gmail.com [eChintan]


जबलपुर इंजीनियरिंग कालेज़ जाने का( परीक्षा कार्यों से) कई बार अवसर मिला था . डा. सरना, डा. वीं के जैन आदि मेरे प्रिय मित्र रहे हैं, दुर्भाग्य से उस समय सलिल साहब से परिचय नहीं था, अन्यथा उनके दर्शन का भी सौभाग्य प्राप्त हो जाता। अपने किसी भी प्रवास के दौरान इन स्थानों को देखने का अवसर प्राप्त नहीं हुआ था, सलिल जी का बहुत बहुत धन्यवाद, चित्रों द्वारा इनसे परिचय का अवसर प्रदान करने के लिये।

--

iडा. रवीन्द्र नाथ मुंशी

sanjiv ने कहा…

डॉ. सरना, डॉ. जैन मेरे गुरु रहे हैं. दोनों को प्रणाम। मंजू जी, मुंशी जी आपको चित्र पसंद आये तो प्रयास सार्थक हुआ.

sanjiv ने कहा…

vijay ji dhanyavad.