स्तम्भ menu

Drop Down MenusCSS Drop Down MenuPure CSS Dropdown Menu

बुधवार, 23 जुलाई 2014

द्विपदीः संजीव

एक द्विपदी

संजीव
*
तलियों की चाह में भटको न तुम
फूल बन महको तो खुद आयेंगी ये. 

कोई टिप्पणी नहीं: