स्तम्भ menu

Drop Down MenusCSS Drop Down MenuPure CSS Dropdown Menu

शुक्रवार, 29 अगस्त 2014

SHRI GANESH AWAHN: UDYABHANU TIWARI 'MADHUKAR'

श्री गणेश आवाहन :


डॉ. उदयभानु तिवारी 'मधुकर'
आये गजानन द्वार हमारे,मंगल कलश सजाओ जी /
मित्रो! वन्दनवार बनाओ /

बुद्धि निधान भक्त चित चन्दन 
विघ्न  विनाशन गिरिजा नंदन 
द्वार   खड़े  सब   करलो    वंदन 
पुष्प   चढाय  करो अभिनन्दन 
घी   के    दीप    जलाओ,मित्रो !सुमन माल ले आओ  //
आये गजानन -----------//१//

मूसक  वाहन   अद्भुत  भ्राजे   
चतुर्भुजी   भगवान   विराजे
ऋद्धि सिद्धि दोउ सँग में राजे
झांझर , शंख  बजाओ  बाजे
मोदक,फल ले आओ ,मित्रो !आरति थार सजाओ /
आये गजानन -----------//२//

ये  अंधों  के  नयन  प्रदाता 
बाँझन के हैं  प्रभु सुत दाता   
देव ,मनुज के बुद्धि विधाता
इन्हें प्रथम  ही  पूजा जाता 
एक दन्त गुण  गाओ,प्रभु को आसान पर ले आओ /
आये गजानन ------------//३//

जय  लम्बोदर   भव  दुखहारी 
हम सब  हैं प्रभु शरण तुम्हारी 
जय जय जय संतन हितकारी   
सुनिए गणपति विनय हमारी   
आसन पर आजाओ ,गणपति विमल छटा छिटकाओ /
आये गजानन -----------//४//

कर तन,मन,धन तुम्हें समपर्ण
पत्र  , पुष्प , फल  करके अर्पण  
''मधुकर''जन गण करते अर्चन 
 प्रभु   कीजै   निर्मल   अंतर्मन
कृपा दृष्टि बरसाओ ,मित्रो !सब मिल आरति गाओ /
आये गजानन ----------//५//
-------------------------------

कोई टिप्पणी नहीं: