स्तम्भ menu

Drop Down MenusCSS Drop Down MenuPure CSS Dropdown Menu

गुरुवार, 25 सितंबर 2014

bundeli haiku:

बुंदेली हाइकु :

संजीव
*
मोरी मतारी
नज़र मत फेरो
ओ री मतारी

घबरा खें टेरो
डगर है अँधेरी 
मोहे डर घेरो

न डूबे नैया
फँसी भवसागर
बचा ले मैया 

एकै बिनै है 
न सुत खों बिसारो
तन्नक हेरो
*  

कोई टिप्पणी नहीं: