स्तम्भ menu

Drop Down MenusCSS Drop Down MenuPure CSS Dropdown Menu

शनिवार, 18 अक्तूबर 2014

balgeet:

बाल गीत:

अहा! दिवाली आ गयी

आओ! साफ़-सफाई करें
मेहनत से हम नहीं डरें
करना शेष लिपाई यहाँ
वहाँ पुताई आज करें

हर घर खूब सजा गयी
अहा! दिवाली आ गयी

कचरा मत फेंको बाहर
कचराघर डालो जाकर
सड़क-गली सब साफ़ रहे
खुश हों लछमी जी आकर

श्री गणेश-मन भा गयी
अहा! दिवाली आ गयी

स्नान-ध्यान कर, मिले प्रसाद
पंचामृत का भाता स्वाद
दिया जला उजियारा कर
फोड़ फटाके हो आल्हाद

शुभ आशीष दिला गयी
अहा! दिवाली आ गयी
*


कोई टिप्पणी नहीं: