स्तम्भ menu

Drop Down MenusCSS Drop Down MenuPure CSS Dropdown Menu

गुरुवार, 23 अक्तूबर 2014

doha muktak:

***

दोहा मुक्तक: 

मोती पाले गर्भ में, सदा मौन रह सीप 
गोबर गुपचुप ही रहे, दें आँगन में लीप 
बन गणेश जाता मिले, जब लक्ष्मी का संग 
तिमिर मिटाता जगत का, जल-चुप रहकर दीप 
*

कोई टिप्पणी नहीं: