स्तम्भ menu

Drop Down MenusCSS Drop Down MenuPure CSS Dropdown Menu

शनिवार, 1 नवंबर 2014

jyotish: ratn kab aur kyon? -neena sharma

ज्योतिष:
आज कुछ मित्रो ने रत्न  के विषय में पुछा था। मै  यहां बताना चाहूंगी  की रत्न ऐसे ही नहीं पहने जा सकते उनको पहनने के लिए  योग्य ज्योतिष का पंडित का होना आवशयक  है आज कल बहुत से नकली रत्न भी भरे पड़े हैं  बहूत सावधानी  बरतनी चाहिए आपने  जो कहा की  कुछ मित्रो ने  पहने  और उनको हानि पहुंचीं  है इसलिए मैं आप को बता रही हूँ  परन्तु तब भी आप को कुंडली के हिसाब से पेहनंना पड़ेगा  लेकिन देखना  होगा की आपके लिए क्या सही है ? आपकी राशि और भाग्य रत्न..---
हमारे जीवन में नौ रत्नों का बहुत महत्व है. इनको धारण करने से हम अपने भाग्य के रास्ते की बाधा को काफी हद तक दूर करने में सक्षम हो सकते है.हमारी जन्म राशि और लग्न, अपने अन्दर सभी तरह के गुण-दोषों को लिए हुये है, जैसे आयु से सम्बंधित, स्वास्थ्य से इसका गहरा संबंध है.धन का यह प्रतिनिधित्व करती है. यश प्राप्ति में सहायक व काम धंधे की परिचायक, हमारा आचार-व्यवहार तथा विचारों का आदान प्रदान, इन सभी व्यापक गुणों की दृष्टि में रखते हुये हमें राशि(लग्न) से सम्बंधित रत्न धारण करना चाहिए राशि से सम्बंधित रत्न को मुख्य रत्न कहते है. कुछ रत्न ऐसे है, जो हमारे कष्टों का निवारण करते है. और कुछ रत्न ऐसे है, जो हमे कष्ट पंहुचाते है. यह जान लेना अति आवश्यक है कि आप जिस रत्न को धारण करने जा रहे है, कंहीं वह आपके लिए कष्टकारी तो नहीं? हम आपको सभी बारह राशियों(लग्न) के रत्नों के बारे में जानकारी देंगे कि कौन व्यक्ति अपनी राशि व लग्न के अनुसार कौन कौन से रत्न धारण कर सकता है.

अब हम माणिक्य रत्न के बारे में जानकारी प्राप्त करेंगे......
मेष राशि :-- मेष राशि मंगल की राशि है. मेष राशि का व्यक्ति बुद्धि बल प्राप्त करने आत्मोन्नति, सन्तान सुख, प्रसिद्धि, राज्य कृपा के लिए माणिक्य धारण कर सकता है. सूर्य की महादशा में माणिक्य श्रेष्ठ फलदायक होता है.
वृष राशि :-- इस राशि के व्यक्ति को माणिक्य नहीं धारण करना चाहिए. क्योंकि यह रत्न वृष राशि के व्यक्ति के लिए सूर्य की महादशा, अंतर्दशा आदि गोचर में अशुभ फल देगा.
मिथुन राशि :-- मिथुन राशि के व्यक्ति को माणिक्य रत्न सिर्फ सूर्य की दशा में ही धारण करना चाहिए वैसे कभी भी धारण नहीं करना चाहिए.
कर्क राशि :- इस राशि के व्यक्ति को माणिक्य रत्न धारण करना चाहिए. यह धन के अभाव को दूर करने में सहायक होगा. तथा आंखों के कष्ट में भी लाभकारी होगा.
सिंह राशि :-- इस राशि के व्यक्ति को माणिक्य अवश्य धारण करना चाहिए. शुभ फलदायक होगा. इस राशि वाले को जीवन भर माणिक्य लाभ ही लाभ प्रदान करेगा. इसे धारण करने से शत्रुओ पर विजय भी मिलती है. व मानसिक संतुलन बना रहता है. शारीरिक स्वास्थ तथा आत्मबल मिलता है.
कन्या राशि :-- उस राशि वालो को माणिक्य सदैव हानिकारक व कष्टकारी होगा. भयंकर दुर्घटना व नेत्र विकार से पीड़ित होने की संभावना बनी रहेगी.
तुला राशि :-- इस राशि वाले को केवल सूर्य की दशा में ही माणिक्य धारण करना चाहिए, जो कि लाभ के लिए शुभ होगा.
वृश्चिक राशि :-- इस राशि के व्यक्ति को माणिक्य धारण करना चाहिए क्योंकि यह राशि मंगल की है अत: धारण करने से राज्य कृपा, प्रतिष्ठा, नौकरी में सफलता प्राप्त होगी.
धनु राशि :-- इस राशि वाले को माणिक्य धारण करना शुभ होगा यह भाग्य की वृद्धि में सहायक होगा.
मकर राशि :-- इस राशि वाले को भूल कर भी मानिक्या नहीं धारण करना चाहिए. क्योंकि यह उसे शारीरिक कष्ट, रोग दुर्घटना आदि परेशानी दे सकता है.
कुम्भ राशि :-- ऐसे व्यक्ति को माणिक्य पहनना तो क्या इससे दूर दूर रहना चाहिए. वरना भारी हानि करेगा. पति या पत्नी दोनों के लिए हानिकारक रहेगा.
मीन राशि :-- इस राशि के व्यक्ति माणिक्य अपनी दशा सूर्य की दशा में धारण कर सकते है. जो रोगों से छुटकारा दिलवाने में सहायक सिद्ध होगा .......कुम्भ राशि :-- इस राशि के लोग नीलम धारण कर लाभ उठा सकते है. धन में वृद्धि करेगा. आंखों के दोषों का शमन करेगा. व्यय को कम करेगा. स्नायुओं को बल देगा. टांगो तथा पांवों को भी बल देगा. पुत्र की आयु में वृद्धि करेगा. पुत्र का भाग्य बढ़ाएगा.

मीन राशि :-- इस राशि के लोगो को नीलम रत्न नहीं धारण करना चाहिए. आंखों के रोगों को बढ़ाएगा. धन लाभ में कठिनाइयां उत्पन्न करेगा. स्वास्थ्य में भी हानि करेगा...

गोमेद और लहसुनिया (राहू एवं केतु रत्न)

गोमेद और लहसुनिया के रत्न को अपनी कुण्डली किसी विद्वान ज्योतिषी को दिखा कर परामर्श लेकर धारण करना अनिवार्य होता है. या इनकी दशाएँ आने पर परामर्श से पहन सकते है. क्योंकि यह दोनों छाया ग्रह के रूप में माने जाते है. वैसे राहू का गोमेद है तथा केतु का रत्न लहसुनियां है राहू ग्रह शनि की प्रवृति रखता है. और केतु ग्रह मंगल की प्रवृति के समान होता है. यह जरूरी नहीं कि यह दोनों कष्टकारी फल दें, शुभ फल भी प्राप्त हो सकते है. यह दोनों रत्न कोई भी और किसी भी राशि का व्यक्ति परामर्श कर के धारण कर सकता है. और उसे लाभ भी होगा....अlब हम मोती रत्न के बारे में जानकारी प्राप्त करेंगे......
मेष राशि :-- इस राशि के व्यक्ति यदि मोती धारण करते है तो उन्हें मानसिक शान्ति, विद्या सुख, गृह सुख और मातृ सुख का भरपूर लाभ मिलता है. यदि मोती को मंगल के रत्न मूंगा के साथ धारण किया जाये तो विशेष धन का लाभ होने लगता है.
वृष राशि :-- इस राशि के व्यक्ति को मोती कभी भी धारण नहीं करना चाहिए. यह शुभ फलदायक नहीं है.
मिथुन राशि :-- इस राशि के व्यक्ति को विशेष परिस्थितियों में मोती धारण करना लाभदायक हो सकता है. चन्द्रमा की दशा में मोती धारण करे तो उन्हें आर्थिक लाभ हो सकता है. मिथुन के लिए चन्द्रमा अशुभ भी है. इसे किसी ज्योतिषी से परामर्श करके धारण करें.
कर्क राशि :- इस राशि के व्यक्ति के लिए मोती अति शुभ कारक रहेगा. मोती धारण करने से स्वास्थ्य तथा आर्थिक पहलू पर नियंत्रण रहेगा. इनके जीवन में विनम्रता बनाए रखने में सक्षम होगा. आर्थिक दृष्टिकोण से लाभकारी होगा.
सिंह राशि :-- इस राशि का व्यक्ति मोती धारण कर सकता है. आंखों के रोगों को दूर करेगा. रक्त सम्बंधित रोगों को दूर करेगा. धन में वृद्धि करेगा. पिता को मानसिक शान्ति प्रदान करेगा. नींद अच्छी आएगी. पुत्र को मृत्यु से बचायेगा.
कन्या राशि :-- इस राशि व्यक्ति यदि मोती धारण करे तो आर्थिक लाभ, यश प्राप्ति, सन्तान का सुख प्राप्त होगा. तथा कल्याणकारी साबित होगा.
तुला राशि :-- इस राशि के व्यक्ति के लिए मोती धारण करना शुभ्ताथा लाभकारी भी है. मोती धारण करने से राज्य कृपा, अचानक धन प्राप्त, यश, पद-प्रतिष्ठा तथा समाज का गौरव प्राप्त होगा.
वृश्चिक राशि :-- इस राशि वालो के लिए मोती धारण करना अति लाभकारी है. इसके प्रभाव से चमत्कारिक रूप से भाग्य में उन्नति, धार्मिक भावना प्रबल होगी. जीवन के प्रत्येक क्षेत्र में वह सुख का अनुभव करेगा.
धनु राशि :-- मोती धारण करना इस राशि वालो के लिए अति अशुभ होगा. इसका कारण मोती चन्द्रमा के बल को बढ़ाएगा जी इस राशि वालो के लिए हानि कारक सिद्ध होगा.
मकर राशि :-- इस राशि वालो के लिए अपने जीवन काल में मोती कभी भी धारण नहीं करना चाहिए. स्वास्थ्य हानि तथा पति- पत्नी में वैमनस्यता बढ़ेगी.
कुम्भ राशि :-- इस राशि के लोगों को मोती धारण नहीं करना चाहिए क्योंकि यह धन, यश, संपत्ति को नष्ट करेगा. अचानक शत्रु बढ़ेगे---मीन राशि :-- इस राशि के व्यक्ति को मोती अवश्य धारण करना चाहिए वह उसे सदैव यश प्रदान करेगा. बुद्धि लाभ, भाग्य उदय, विद्या की प्राप्ति, पुत्र के सुख की प्राप्ति व अन्य चमत्कारी लाभ देगा...............
अब हम मूंगा रत्न के बारे में जानकारी प्राप्त करेंगे......
मेष राशि :-- इस राशि वाले व्यक्तिओं के लिए मूंगा सदैव लाभकारी व शुभदायक है. क्योंकि मूंगा रत्न इस राशि का रत्न है. मंगल इस राशि का स्वामी भी है. इससे इनकी आयु में वृद्धि, स्वास्थ्य में उन्नति तथा यश की प्राप्ति होगी.
वृष राशि :-- इस राशि के लिए मूंगा रत्न कष्टकारी होगा. इस राशि वालो को इसको पहनने की कल्पना भी नहीं करनी चाहिए.
मिथुन राशि :-- इस राशि वालो को मूंगा कभी भी धारण नहीं करना चाहिए. क्योंकि इस राशि वालो को मूंगा रत्न रोगों की उत्पत्ति करेगा इसका प्रभाव उलटा पड़ेगा.
कर्क राशि :- इस राशि वालो को मूंगा धारण करना अत्यंत शुभ फलदायी होगा. यदि इस राशि वाले लोग मोती और मूंगा एक साथ धारण करे तो उन्हें सन्तान का सुख, यश, मान और प्रतिष्ठा में वृद्धि होगी. सभी कुछ प्राप्त करेगा.
सिंह राशि :-- मूंगा इस राशि वाले व्यक्तियों के लिए अति उत्तम है. इसके धारण करने से मानसिक शान्ति, घर तथा भूमि लाभ, धन लाभ, यश की प्राप्ति होती है. उसका भाग्य उज्जवल होता है. शुभ राज योग कारक माना जाता है यदि मूंगा रत्न माणिक्य के साथ धारण करे तो आश्चर्यजनक लाभ प्राप्त होने लगता है. मंगल और सूर्य दशा में अत्यंत लाभकारी होता है..
कन्या राशि :-- इस राशि वालो को मूंगा रत्न बहुत अधिक हानिकारक है. दुर्घटनाये, कष्ट देगा. छोटे भाइयो को कष्ट देने में प्रबल होगा. मृत्यु का बुलावा होगा.
तुला राशि :-- इस राशि वालो को मूंगा कभी भी धारण नहीं करना चाहिए आयु को ख़तरा होने की संभावनाए बड सकती है. अचानक दुर्घटनाओं का सामना करना पड़ सकता है.
वृश्चिक राशि :-- इस राशि वाले व्यक्तियों के लिए मूंगा धारण करना सुख-समृद्धि कारक तथा कल्याणकारी है.इसको धारण करने से निश्चय ही व्यक्ति की आयु में वृद्धि, स्वास्थ्य में उन्नति, तथा यश की प्राप्ति होगी.आशा से भी अधिक सुखो को भोगेगा.
धनु राशि :-- इस राशि वाले मूंगा रत्न धारण करके सुख, यश, धन, समृद्धि, भाग्य में उन्नति तहा सामाजिक प्रतिष्ठा आदि की प्राप्ति गोगी. सन्तान सुख के लिए उत्तम रहेगा.
मकर राशि :-- यदि इस राशि का व्यक्ति मूंगा रत्न धारण करे तो उसे जमीन जायदाद, वाहन, घर, धन की प्राप्ति, तथा माता का विशेष सुख प्राप्त होगा.
कुम्भ राशि :-- इस राशि वालो को मूंगा रत्न धारण करना वर्जित अर्थात बिलकुल मना है. हानि कारक रहेगा.छोटे भाई एवं बहनों के लिए कष्टकारी तथा सन्तान के सुख में कमी करेगा. शारीरिक कष्ट भी हो सकते है.---तुला राशि :-- इस राशि वालो के लिए शनि राजयोगकारक है. नीलम रत्न धारण करने से धन, पदवी,सुख सभी में वृद्धि करेगा. निम्न स्तर के लोगो से प्यार प्राप्त होगा. आयु तथा स्वास्थ्य में वृद्धि करेगा. माता को धनादि की प्राप्ति होगी. और पिता का स्वास्थ्य व धन ठीक रखेगा.

वृश्चिक राशि :-- इस राशि के लोग शनि की दशा में परामर्श के द्वारा नीलम रत्न धारण कर सकते है. परन्तु नीलम धन की विशेष वृद्धि नहीं करेगा. लेकिन भूमि में वृद्धि होगी. मित्रों से लाभ हो सकता है. छोटी बहनों और भाइयों को सुख तथा धन प्राप्त हो सकता है.

धनु राशि :-- इस राशि के लोगो को नीलम रत्न धारण करना शुभकर नहीं होगा. बहन-भाइयों की आयु को क्षीण करेगा. तथा शत्रु अधिक पैदा होंगे.

मकर राशि :-- इस राशि के लोगो के लिए नीलम रत्न धारण करना अत्यंत शुभ होगा.इनके स्वास्थ्य, धन, आयु, विद्या में वृद्धि करेगा. वाणी में सुधार होगा. टांगो के रोगों का शमन होगा. वायु से उत्पन्न रोगों को दूर परेगा.----मिथुन राशि :-- इस राशि के लोग भी नीलम रत्न धारण कर सकते है. वो भी शनि की दशा में.. धन और भाग्य में वृद्धि करेगा. तथा धर्म में रूचि उत्पन्न करेगा.

कर्क राशि :- इस राशि वालो के लिए शनि अशुभ ग्रह है. इसका रत्न कदापि धारण नहीं करना चाहिए. आयु को क्षीण करेगा. धन के क्षेत्र में कष्ट तथा हानि देगा. साझेदारी के कार्यों में दुखदायी होगा.पति पत्नी में अलगाव पैदा करेगा. पति या पत्नी के लिए कष्टकारी भी सिद्ध होगा.

सिंह राशि :-- इस राशि के लोगो को नीलम रत्न नहीं धारण करना चाहिए. क्योंकि इस धारण करने से शत्रु सिर उठाएँगे. धन की कमी रहेगी. पति या पत्नी की आयु के लिए कष्टकारी होगा. पेट तथा अंतड़ियों से सम्बंधित रोग उत्पन्न होंगे.

कन्या राशि :-- इस राशि वालो को नीलम रत्न धारण करने के लिए ज्योतिषी से परामर्श लेना अति आवश्यक है. यदि नीलम रत्न धारण करेंगे तो स्वास्थ्य की हानि करेगा. और बच्चो से वैमनस्यता रहेगी.शत्रु हावी होने लगते है. पेट से सम्बंधित रोग देगा--मीन राशि :-- इस राशि के लोगों के लिए सदैव ही लाभकारी होगा. यदि मूंगा रत्न पुखराज रत्न के साथ धारण करे तो भाग्य में उन्नति, धन प्राप्ति, परिवार को सुख देगा..........

अब हम पन्ना, रत्न के बारे में जानकारी प्राप्त करेंगे......

मेष राशि :-- इस राशि के व्यक्ति को पन्ना रत्न कभी भी धारण नहीं करना चाहिए.यदि इस राशि का व्यक्ति पन्ना धारण करता है तो यह बुध ग्रह के बुरे प्रभाव को बढ़ा देगा, और अनेक प्रकार के कष्टों का सामना करना पड़ेगा.

वृष राशि :-- इस राशि के व्यक्ति पन्ना रत्न धारण कर सकते है.इसे धारण करने से सुख-समृद्धि, धन, ऐश्वर्य, प्रतिष्ठा तथा सन्तान सुख की प्राप्ति होती है.और विद्या के लिए अति शुभ है. भाग्य में उन्नति और लाभकारी फल देता है.

मिथुन राशि :-- इस राशि वालों को पन्ना रत्न धारण करना अति शुभ है. इसे धारण करने से मानसिक शान्ति, माता का सुख, शारीरिक सुख की प्राप्ति होती है. तथा वाहन आदि के सुख का भी द्योतक है. अत: यह लाभकारी तथा शुभ है. पन्ना पहनने से मिर्गी के दौरे भी नहीं पड़ते है.

कर्क राशि :- इस राशि वाले को पन्ना धारण करना अति अमंगलकारी है. पन्ना रत्न धारण करने से भाइयो के सुख में कमी, माता से कष्ट, निश्चय ही अशुभ फल की प्राप्ति होती है.

सिंह राशि :-- इस राशि वालो को पन्ना रत्न धारण करना अति कल्याणकारी सिद्ध होगा. यह इन्हें आर्थिक लाभ, व्यवसाय में लाभ व सफलता, सन्तान सुख और प्रतिष्ठा देगा.  ---वृष राशि :-- इस राशि वालो को शनि रत्न नीलम शुभ फलदायक होगा.यह रत्न धारण करने से धन मान और भाग्य की वृद्धि होगी.छोटे भाई की आयु में वृद्धि करेगा. पिता की आयु और स्वास्थ्य में वृद्धि करेगा. आपके स्नायुओं को मजबूत करेगा. राज्य से कृपा प्रदान होगी. उच्चाधिकारियों से लाभ प्रदान करवाएगा. इस राशि वाले इसे हीरा के साथ भी धारण कर सकते है अति लाभदायक सिद्ध होगा.----आपकी राशि और भाग्य रत्न..---
हमारे जीवन में नौ रत्नों का बहुत महत्व है. इनको धारण करने से हम अपने भाग्य के रास्ते की बाधा को काफी हद तक दूर करने में सक्षम हो सकते है.हमारी जन्म राशि और लग्न, अपने अन्दर सभी तरह के गुण-दोषों को लिए हुये है, जैसे आयु से सम्बंधित, स्वास्थ्य से इसका गहरा संबंध है.धन का यह प्रतिनिधित्व करती है. यश प्राप्ति में सहायक व काम धंधे की परिचायक, हमारा आचार-व्यवहार तथा विचारों का आदान प्रदान, इन सभी व्यापक गुणों की दृष्टि में रखते हुये हमें राशि(लग्न) से सम्बंधित रत्न धारण करना चाहिए राशि से सम्बंधित रत्न को मुख्य रत्न कहते है. कुछ रत्न ऐसे है, जो हमारे कष्टों का निवारण करते है. और कुछ रत्न ऐसे है, जो हमे कष्ट पंहुचाते है. यह जान लेना अति आवश्यक है कि आप जिस रत्न को धारण करने जा रहे है, कंहीं वह आपके लिए कष्टकारी तो नहीं? हम आपको सभी बारह राशियों(लग्न) के रत्नों के बारे में जानकारी देंगे कि कौन व्यक्ति अपनी राशि व लग्न के अनुसार कौन कौन से रत्न धारण कर सकता है.

अब हम माणिक्य रत्न के बारे में जानकारी प्राप्त करेंगे......
मेष राशि :-- मेष राशि मंगल की राशि है. मेष राशि का व्यक्ति बुद्धि बल प्राप्त करने आत्मोन्नति, सन्तान सुख, प्रसिद्धि, राज्य कृपा के लिए माणिक्य धारण कर सकता है. सूर्य की महादशा में माणिक्य श्रेष्ठ फलदायक होता है.
वृष राशि :-- इस राशि के व्यक्ति को माणिक्य नहीं धारण करना चाहिए. क्योंकि यह रत्न वृष राशि के व्यक्ति के लिए सूर्य की महादशा, अंतर्दशा आदि गोचर में अशुभ फल देगा.
मिथुन राशि :-- मिथुन राशि के व्यक्ति को माणिक्य रत्न सिर्फ सूर्य की दशा में ही धारण करना चाहिए वैसे कभी भी धारण नहीं करना चाहिए.
कर्क राशि :- इस राशि के व्यक्ति को माणिक्य रत्न धारण करना चाहिए. यह धन के अभाव को दूर करने में सहायक होगा. तथा आंखों के कष्ट में भी लाभकारी होगा.
सिंह राशि :-- इस राशि के व्यक्ति को माणिक्य अवश्य धारण करना चाहिए. शुभ फलदायक होगा. इस राशि वाले को जीवन भर माणिक्य लाभ ही लाभ प्रदान करेगा. इसे धारण करने से शत्रुओ पर विजय भी मिलती है. व मानसिक संतुलन बना रहता है. शारीरिक स्वास्थ तथा आत्मबल मिलता है.---कन्या राशि :-- उस राशि वालो को माणिक्य सदैव हानिकारक व कष्टकारी होगा. भयंकर दुर्घटना व नेत्र विकार से पीड़ित होने की संभावना बनी रहेगी.
तुला राशि :-- इस राशि वाले को केवल सूर्य की दशा में ही माणिक्य धारण करना चाहिए, जो कि लाभ के लिए शुभ होगा.
वृश्चिक राशि :-- इस राशि के व्यक्ति को माणिक्य धारण करना चाहिए क्योंकि यह राशि मंगल की है अत: धारण करने से राज्य कृपा, प्रतिष्ठा, नौकरी में सफलता प्राप्त होगी.
धनु राशि :-- इस राशि वाले को माणिक्य धारण करना शुभ होगा यह भाग्य की वृद्धि में सहायक होगा.
मकर राशि :-- इस राशि वाले को भूल कर भी मानिक्या नहीं धारण करना चाहिए. क्योंकि यह उसे शारीरिक कष्ट, रोग दुर्घटना आदि परेशानी दे सकता है.
कुम्भ राशि :-- ऐसे व्यक्ति को माणिक्य पहनना तो क्या इससे दूर दूर रहना चाहिए. वरना भारी हानि करेगा. पति या पत्नी दोनों के लिए हानिकारक रहेगा.
मीन राशि :-- इस राशि के व्यक्ति माणिक्य अपनी दशा सूर्य की दशा में धारण कर सकते है. जो रोगों से छुटकारा दिलवाने में सहायक सिद्ध होगा .......
कन्या राशि :-- इस राशि वाले लो पन्ना रत्न धारण करना चमत्कारी रूप से लाभकारी सिद्ध होगा. इसके धारण करने से आयु में वृद्धि, शारीरिक सुख, कर्म, व्यवसाय, राज्य कृपा, प्रतिष्ठा और पिता को सुख प्राप्त होगा. भाग्य में कई अवसर उन्नति के आते रहेंगे.

तुला राशि :-- इस राशि के व्यक्ति के लिए पन्ना रत्न धारण करना शुभ माना जाता है. इसे धारण करने से भाग्य में उंनती के अवसर बार बार मिलेंगे. धर्म के प्रति आस्था बढ़ती है. धन की प्राप्ति सरलता से होगी. यदि पन्ना को हीरे के साथ लगा कर इस राशि के लोग धारण करे तो चमत्कारी लाभ प्राप्त होगा.

वृश्चिक राशि :-- इस राशि के लोगो को पन्ना रत्न किसी विद्वान ज्योतिषी से परामर्श करके धारण करना चाहिए. पर बुध की सिर्फ महादशा में ही धारण कर सकते है. सोच समझ कर और कुण्डली को दिखा कर ही इसे धारण करे.

धनु राशि :-- इस राशि वालो को कभी भी पन्ना धारण नहीं करना चाहिए. क्योंकि पन्ना धारण करने से व्यक्ति में दुषिता आती है.जो कि कष्टकारी साबित होता है.

मकर राशि :-- इस राशि वालो को पन्ना धारण करना सदा ही लाभकारी सिद्ध होगा.पन्ना रत्न यदि नीलम के साथ या चाहे तो अकेला पन्ना रत्न भी धारण कर सकते है. इसे धारण करने से भाग्यवर्धक, यश, शारीरिक सुख की प्राप्ति होगी.

कुम्भ राशि :-- इस राशि के लोग पन्ना रत्न धारण कर सकते है. जो इनके लिए फलदायी होगा. पन्ना रत्न को हीरा या नीलम के साथ भी धारण कर सकते है.इससे शारीरिक सुख, आर्थिक लाभ तथा सन्तान के सुख की प्राप्ति होगी. मन में स्थिरता और शान्ति प्राप्त होगी.

मीन राशि :-- मीन राशि के व्यक्ति केवल बुध की दशा में ही पन्ना रत्न धारण कर सकते है. जो इन्हें आर्थिक दृष्टि से लाभ करेगा और माता के सुख का भी लाभ प्राप्त होगा.....मेष राशि :-- इस राशि के व्यक्ति को पुखराज रत्न धारण करना अति शुभ होगा. पुखराज धारण करने से भाग्य में वृद्धि होगी. बल, बुद्धि, विद्या तथा ज्ञान की प्राप्ति होगी. कल्याणकारी होगा. समृद्धि देने वाला होगा.

वृष राशि :-- इस राशि के लोगो के लिए पुखराज रत्न धारण करना अमंगलकारी है. इसे भूल कर भी ना पहने. परामर्श करके धारण करना चाहिए.

मिथुन राशि :-- इस राशि के व्यक्ति केवल वृहस्पति की दशा में ही पुखराज रत्न धारण कर सकते है. धारण करने से पहले किसी विद्वान ज्योतिषी से प्रानार्ष करना अनिवार्य है.

कर्क राशि :- इस राशि के लोगो के लिए पुखराज धारण करना अति उत्तम होगा. इसे धारण करने से आर्थिक लाभ तथा ज्ञान में प्रचुर वृद्धि होगी. पिता तथा सन्तान के सुख की प्राप्ति होती है. यदि मोती और पुखराज दोनों पहने तो चमत्कारी लाभ होगा.

सिंह राशि :-- इस राशि के लोगो के लिए पुखराज रत्न पहनना अति कल्याणकारी सिद्ध होगा. सन्तान का सुख प्राप्त होगा. विदेश में व्यापार से लाभ होगा.

कन्या राशि :-- इस राशि वालो को पुखराज रत्न धारण नहीं करना चाहिए. क्योंकि धारण करने से आर्थिक कष्ट उत्पन्न करेगा.

तुला राशि :-- इस राशि वालो के लोगो के लिए पुखराज रत्न अति अशुभ माना गया है. पुखराज धारण करने से रोग बढ़ेंगे. शत्रु हावी होंगे, भाई बहन के सुखो में कमी होगी तथा मानसिक चिंता परेशान करेगी.

वृश्चिक राशि :-- इस राशि वालो के लिए पुखराज रत्न शुभ अत्यंत समृद्धिदायक तथा खुशियाँ प्रदान करने वाला होगा. पुत्रों को उन्नति देगा. राज्य कृपा तथा प्रतिष्ठा में वृद्धि करेगा. पुत्रों को नाम, प्रतिष्ठा, यश प्राप्त होगा. इस राशि वालों को पुखराज जीवन भर धारण करना चाहिए.

धनु राशि :-- इस राशि वालों के लिए पुखराज रत्न सबसे श्रेष्ठ माना गया है. इसे धारण करने से शारीरिक सुख की प्राप्ति, वाहन सुख, माँ का सुख, तथा सभी प्रकार के आर्थिक लाभ प्राप्त होंगे. इस राशि वाले लोगो को पुखराज आजीवन धारण करना चाहिए. जो कि लाभकारी सिद्ध होगा.

मकर राशि :-- इस राशि के लोगो के लिए पुखराज रत्न अशुभ होगा कभी भी पुखराज ना धारण करे. इसके कारण शारीरिक कष्ट, पिता को कष्ट, तथा रोगों को बढ़ाएगा. जीवन में कभी भी धारण नहीं करना चाहिए.

कुम्भ राशि :-- इस राशि वालों लो पुखराज रत्न ज्योतिषी से परामर्श करके ही धारण करना चाहिए. कुछ रत्न विशेषज्ञ इस राशि वालों को पुखराज रत्न धन हेतु भी पहनाते है कई बार लाभ देता है किन्तु शारीरिक कष्ट की उत्पत्ति कर देगा.

मीन राशि :-- इस राशि वाले लोगो के लिए पुखराज रत्न आजीवन धारण करना चाहिए. इनके लिए शुभ तथा कल्याणकारी माना जाता है. धन-समृद्धि में वृद्धि करेगा. स्वास्थ्य ठीक रखेगा. विद्या बुद्धि में उन्नति देगा. पति या पत्नी के लिए शुभकारी होगा. राज्य कृपा प्राप्त होगी. उच्च पद प्राप्त होने की संभावना बड़ेगी. सभी मनोकामना पूर्ण होती है......

अब हम हीरा, रत्न के बारे में जानकारी प्राप्त करेंगे......

मेष राशि :-- इस राशि के व्यक्तिओं को हीरा कभी भी धारण नहीं करना चाहिए. क्योंकि इसे धारण करने से धन तथा साझेदारी के कार्यों में कष्टकारी तथा आयु की कमी होगी. पति – पत्नी में अलगाव पैदा करेगा तथा वाणी में विकार पैदा करेगा, व्यभिचारी बनायेगा.

वृष राशि :-- इस राशि वाले व्यक्ति को हीरा रत्न शुभकारी सिद्ध होगा. स्वास्थ्य की वृद्धि करेगा. आयु वृद्धि के लिए शुभ होगा. स्त्री या पति के स्वास्थ्य में सुधार होगा. ऋण को कम करने में सहायक होगा. शत्रु बाधा कम होगी. भोग विलास की सामग्री देगा. आंखों की बीमारीओं का शमन करेगा.

मिथुन राशि :-- इस राशि के लोगो को हीरा रत्न धारण करने से धन और भाग्य की वृद्धि होगी. बुद्धि में वृद्धि करेगा. भोग विलास, रति की प्राप्ति, पुत्र की वृद्धि करेगा. स्वास्थ्य में सुधार करेगा. समृद्धिदायक साबित होगा.

कर्क राशि :- इस राशि के लीगी को हीरा रत्न धारण नहीं करना चाहिए. इसे धारण करने से माता तथा पिता की आयु व स्वास्थ्य को क्षीण करेगा. खून से सम्बंधित रोग पैदा करेगा. पत्नी या पति से वैमनस्यता बढ़ाएगा. अपयश देगा.

सिंह राशि :-- इस राशि के लोगो को हीरा रत्न नहीं धारण करना चाहिए. इसे धारण करने से राज्य से सम्बंधित लोगो से अपमानित होना पड़ सकता है. बहनों के लिए कष्टकारी हो सकता है. स्त्रियों से वैमनस्यता बढ़ाएगा. स्वास्थ्य हानि करेगा.

कन्या राशि :-- इस राशि के लोगो को हीरा रत्न धारण करने से भाग्य में वृद्धि होगी. राज्य कृपा प्राप्त होगी. धन की विशेष वृद्धि देगा. गायन शक्ति में वृद्धि होगी. रोगों का शमन करेगा. विद्या में उन्नति प्राप्त होगी.----तुला राशि :-- इस राशिरत्न कब और क्यों? 
नीना शर्मा 


 रत्न आपको कुंडली के हिसाब से पहनंनाहोगा।हमारे जीवन में नौ रत्नों का बहुत महत्व है. इनको धारण कर हम अपने भाग्य के रास्ते की बाधा को काफी हद तक दूर कर  सकते है.हमारी जन्म राशि और लग्न, अपने अन्दर सभी तरह के गुण-दोषों को लिए हुये है, जैसे आयु से सम्बंधित, स्वास्थ्य से इसका गहरा संबंध है.धन का यह प्रतिनिधित्व करती है. यश प्राप्ति में सहायक व काम धंधे की परिचायक, हमारा आचार-व्यवहार तथा विचारों का आदान प्रदान, इन सभी व्यापक गुणों की दृष्टि में रखते हुये हमें राशि(लग्न) से सम्बंधित रत्न धारण करना चाहिए राशि से सम्बंधित रत्न को मुख्य रत्न कहते है. कुछ रत्न ऐसे है, जो हमारे कष्टों का निवारण करते है. और कुछ रत्न ऐसे है, जो हमे कष्ट पंहुचाते है. यह जान लेना अति आवश्यक है कि आप जिस रत्न को धारण करने जा रहे है, कंहीं वह आपके लिए कष्टकारी तो नहीं? हम आपको सभी बारह राशियों(लग्न) के रत्नों के बारे में जानकारी देंगे कि कौन व्यक्ति अपनी राशि व लग्न के अनुसार कौन कौन से रत्न धारण कर सकता है.
अब हम माणिक्य रत्न के बारे में जानकारी प्राप्त करेंगे......
मेष राशि :-- मेष राशि मंगल की राशि है. मेष राशि का व्यक्ति बुद्धि बल प्राप्त करने आत्मोन्नति, सन्तान सुख, प्रसिद्धि, राज्य कृपा के लिए माणिक्य धारण कर सकता है. सूर्य की महादशा में माणिक्य श्रेष्ठ फलदायक होता है.
वृष राशि :-- इस राशि के व्यक्ति को माणिक्य नहीं धारण करना चाहिए. क्योंकि यह रत्न वृष राशि के व्यक्ति के लिए सूर्य की महादशा, अंतर्दशा आदि गोचर में अशुभ फल देगा.
मिथुन राशि :-- मिथुन राशि के व्यक्ति को माणिक्य रत्न सिर्फ सूर्य की दशा में ही धारण करना चाहिए वैसे कभी भी धारण नहीं करना चाहिए.
कर्क राशि :- इस राशि के व्यक्ति को माणिक्य रत्न धारण करना चाहिए. यह धन के अभाव को दूर करने में सहायक होगा. तथा आंखों के कष्ट में भी लाभकारी होगा.
सिंह राशि :-- इस राशि के व्यक्ति को माणिक्य अवश्य धारण करना चाहिए. शुभ फलदायक होगा. इस राशि वाले को जीवन भर माणिक्य लाभ ही लाभ प्रदान करेगा. इसे धारण करने से शत्रुओ पर विजय भी मिलती है. व मानसिक संतुलन बना रहता है. शारीरिक स्वास्थ तथा आत्मबल मिलता है.
कन्या राशि :-- उस राशि वालो को माणिक्य सदैव हानिकारक व कष्टकारी होगा. भयंकर दुर्घटना व नेत्र विकार से पीड़ित होने की संभावना बनी रहेगी.
तुला राशि :-- इस राशि वाले को केवल सूर्य की दशा में ही माणिक्य धारण करना चाहिए, जो कि लाभ के लिए शुभ होगा.
वृश्चिक राशि :-- इस राशि के व्यक्ति को माणिक्य धारण करना चाहिए क्योंकि यह राशि मंगल की है अत: धारण करने से राज्य कृपा, प्रतिष्ठा, नौकरी में सफलता प्राप्त होगी.
धनु राशि :-- इस राशि वाले को माणिक्य धारण करना शुभ होगा यह भाग्य की वृद्धि में सहायक होगा.
मकर राशि :-- इस राशि वाले को भूल कर भी मानिक्या नहीं धारण करना चाहिए. क्योंकि यह उसे शारीरिक कष्ट, रोग दुर्घटना आदि परेशानी दे सकता है.
कुम्भ राशि :-- ऐसे व्यक्ति को माणिक्य पहनना तो क्या इससे दूर दूर रहना चाहिए. वरना भारी हानि करेगा. पति या पत्नी दोनों के लिए हानिकारक रहेगा.
मीन राशि :-- इस राशि के व्यक्ति माणिक्य अपनी दशा सूर्य की दशा में धारण कर सकते है. जो रोगों से छुटकारा दिलवाने में सहायक सिद्ध होगा .......कुम्भ राशि :-- इस राशि के लोग नीलम धारण कर लाभ उठा सकते है. धन में वृद्धि करेगा. आंखों के दोषों का शमन करेगा. व्यय को कम करेगा. स्नायुओं को बल देगा. टांगो तथा पांवों को भी बल देगा. पुत्र की आयु में वृद्धि करेगा. पुत्र का भाग्य बढ़ाएगा.

मीन राशि :-- इस राशि के लोगो को नीलम रत्न नहीं धारण करना चाहिए. आंखों के रोगों को बढ़ाएगा. धन लाभ में कठिनाइयां उत्पन्न करेगा. स्वास्थ्य में भी हानि करेगा...
गोमेद और लहसुनिया (राहू एवं केतु रत्न)
गोमेद और लहसुनिया के रत्न को अपनी कुण्डली किसी विद्वान ज्योतिषी को दिखा कर परामर्श लेकर धारण करना अनिवार्य होता है. या इनकी दशाएँ आने पर परामर्श से पहन सकते है. क्योंकि यह दोनों छाया ग्रह के रूप में माने जाते है. वैसे राहू का गोमेद है तथा केतु का रत्न लहसुनियां है राहू ग्रह शनि की प्रवृति रखता है. और केतु ग्रह मंगल की प्रवृति के समान होता है. यह जरूरी नहीं कि यह दोनों कष्टकारी फल दें, शुभ फल भी प्राप्त हो सकते है. यह दोनों रत्न कोई भी और किसी भी राशि का व्यक्ति परामर्श कर के धारण कर सकता है. और उसे लाभ भी होगा....अlब हम मोती रत्न के बारे में जानकारी प्राप्त करेंगे......
मेष राशि :-- इस राशि के व्यक्ति यदि मोती धारण करते है तो उन्हें मानसिक शान्ति, विद्या सुख, गृह सुख और मातृ सुख का भरपूर लाभ मिलता है. यदि मोती को मंगल के रत्न मूंगा के साथ धारण किया जाये तो विशेष धन का लाभ होने लगता है.
वृष राशि :-- इस राशि के व्यक्ति को मोती कभी भी धारण नहीं करना चाहिए. यह शुभ फलदायक नहीं है.
मिथुन राशि :-- इस राशि के व्यक्ति को विशेष परिस्थितियों में मोती धारण करना लाभदायक हो सकता है. चन्द्रमा की दशा में मोती धारण करे तो उन्हें आर्थिक लाभ हो सकता है. मिथुन के लिए चन्द्रमा अशुभ भी है. इसे किसी ज्योतिषी से परामर्श करके धारण करें.
कर्क राशि :- इस राशि के व्यक्ति के लिए मोती अति शुभ कारक रहेगा. मोती धारण करने से स्वास्थ्य तथा आर्थिक पहलू पर नियंत्रण रहेगा. इनके जीवन में विनम्रता बनाए रखने में सक्षम होगा. आर्थिक दृष्टिकोण से लाभकारी होगा.
सिंह राशि :-- इस राशि का व्यक्ति मोती धारण कर सकता है. आंखों के रोगों को दूर करेगा. रक्त सम्बंधित रोगों को दूर करेगा. धन में वृद्धि करेगा. पिता को मानसिक शान्ति प्रदान करेगा. नींद अच्छी आएगी. पुत्र को मृत्यु से बचायेगा.
कन्या राशि :-- इस राशि व्यक्ति यदि मोती धारण करे तो आर्थिक लाभ, यश प्राप्ति, सन्तान का सुख प्राप्त होगा. तथा कल्याणकारी साबित होगा.
तुला राशि :-- इस राशि के व्यक्ति के लिए मोती धारण करना शुभ्ताथा लाभकारी भी है. मोती धारण करने से राज्य कृपा, अचानक धन प्राप्त, यश, पद-प्रतिष्ठा तथा समाज का गौरव प्राप्त होगा.
वृश्चिक राशि :-- इस राशि वालो के लिए मोती धारण करना अति लाभकारी है. इसके प्रभाव से चमत्कारिक रूप से भाग्य में उन्नति, धार्मिक भावना प्रबल होगी. जीवन के प्रत्येक क्षेत्र में वह सुख का अनुभव करेगा.
धनु राशि :-- मोती धारण करना इस राशि वालो के लिए अति अशुभ होगा. इसका कारण मोती चन्द्रमा के बल को बढ़ाएगा जी इस राशि वालो के लिए हानि कारक सिद्ध होगा.
मकर राशि :-- इस राशि वालो के लिए अपने जीवन काल में मोती कभी भी धारण नहीं करना चाहिए. स्वास्थ्य हानि तथा पति- पत्नी में वैमनस्यता बढ़ेगी.
कुम्भ राशि :-- इस राशि के लोगों को मोती धारण नहीं करना चाहिए क्योंकि यह धन, यश, संपत्ति को नष्ट करेगा. अचानक शत्रु बढ़ेगे---मीन राशि :-- इस राशि के व्यक्ति को मोती अवश्य धारण करना चाहिए वह उसे सदैव यश प्रदान करेगा. बुद्धि लाभ, भाग्य उदय, विद्या की प्राप्ति, पुत्र के सुख की प्राप्ति व अन्य चमत्कारी लाभ देगा...............
अब हम मूंगा रत्न के बारे में जानकारी प्राप्त करेंगे......
मेष राशि :-- इस राशि वाले व्यक्तिओं के लिए मूंगा सदैव लाभकारी व शुभदायक है. क्योंकि मूंगा रत्न इस राशि का रत्न है. मंगल इस राशि का स्वामी भी है. इससे इनकी आयु में वृद्धि, स्वास्थ्य में उन्नति तथा यश की प्राप्ति होगी.
वृष राशि :-- इस राशि के लिए मूंगा रत्न कष्टकारी होगा. इस राशि वालो को इसको पहनने की कल्पना भी नहीं करनी चाहिए.
मिथुन राशि :-- इस राशि वालो को मूंगा कभी भी धारण नहीं करना चाहिए. क्योंकि इस राशि वालो को मूंगा रत्न रोगों की उत्पत्ति करेगा इसका प्रभाव उलटा पड़ेगा.
कर्क राशि :- इस राशि वालो को मूंगा धारण करना अत्यंत शुभ फलदायी होगा. यदि इस राशि वाले लोग मोती और मूंगा एक साथ धारण करे तो उन्हें सन्तान का सुख, यश, मान और प्रतिष्ठा में वृद्धि होगी. सभी कुछ प्राप्त करेगा.
सिंह राशि :-- मूंगा इस राशि वाले व्यक्तियों के लिए अति उत्तम है. इसके धारण करने से मानसिक शान्ति, घर तथा भूमि लाभ, धन लाभ, यश की प्राप्ति होती है. उसका भाग्य उज्जवल होता है. शुभ राज योग कारक माना जाता है यदि मूंगा रत्न माणिक्य के साथ धारण करे तो आश्चर्यजनक लाभ प्राप्त होने लगता है. मंगल और सूर्य दशा में अत्यंत लाभकारी होता है..
कन्या राशि :-- इस राशि वालो को मूंगा रत्न बहुत अधिक हानिकारक है. दुर्घटनाये, कष्ट देगा. छोटे भाइयो को कष्ट देने में प्रबल होगा. मृत्यु का बुलावा होगा.
तुला राशि :-- इस राशि वालो को मूंगा कभी भी धारण नहीं करना चाहिए आयु को ख़तरा होने की संभावनाए बड सकती है. अचानक दुर्घटनाओं का सामना करना पड़ सकता है.
वृश्चिक राशि :-- इस राशि वाले व्यक्तियों के लिए मूंगा धारण करना सुख-समृद्धि कारक तथा कल्याणकारी है.इसको धारण करने से निश्चय ही व्यक्ति की आयु में वृद्धि, स्वास्थ्य में उन्नति, तथा यश की प्राप्ति होगी.आशा से भी अधिक सुखो को भोगेगा.
धनु राशि :-- इस राशि वाले मूंगा रत्न धारण करके सुख, यश, धन, समृद्धि, भाग्य में उन्नति तहा सामाजिक प्रतिष्ठा आदि की प्राप्ति गोगी. सन्तान सुख के लिए उत्तम रहेगा.
मकर राशि :-- यदि इस राशि का व्यक्ति मूंगा रत्न धारण करे तो उसे जमीन जायदाद, वाहन, घर, धन की प्राप्ति, तथा माता का विशेष सुख प्राप्त होगा.
कुम्भ राशि :-- इस राशि वालो को मूंगा रत्न धारण करना वर्जित अर्थात बिलकुल मना है. हानि कारक रहेगा.छोटे भाई एवं बहनों के लिए कष्टकारी तथा सन्तान के सुख में कमी करेगा. शारीरिक कष्ट भी हो सकते है.---तुला राशि :-- इस राशि वालो के लिए शनि राजयोगकारक है. नीलम रत्न धारण करने से धन, पदवी,सुख सभी में वृद्धि करेगा. निम्न स्तर के लोगो से प्यार प्राप्त होगा. आयु तथा स्वास्थ्य में वृद्धि करेगा. माता को धनादि की प्राप्ति होगी. और पिता का स्वास्थ्य व धन ठीक रखेगा.

वृश्चिक राशि :-- इस राशि के लोग शनि की दशा में परामर्श के द्वारा नीलम रत्न धारण कर सकते है. परन्तु नीलम धन की विशेष वृद्धि नहीं करेगा. लेकिन भूमि में वृद्धि होगी. मित्रों से लाभ हो सकता है. छोटी बहनों और भाइयों को सुख तथा धन प्राप्त हो सकता है.

धनु राशि :-- इस राशि के लोगो को नीलम रत्न धारण करना शुभकर नहीं होगा. बहन-भाइयों की आयु को क्षीण करेगा. तथा शत्रु अधिक पैदा होंगे.
मकर राशि :-- इस राशि के लोगो के लिए नीलम रत्न धारण करना अत्यंत शुभ होगा.इनके स्वास्थ्य, धन, आयु, विद्या में वृद्धि करेगा. वाणी में सुधार होगा. टांगो के रोगों का शमन होगा. वायु से उत्पन्न रोगों को दूर परेगा.----मिथुन राशि :-- इस राशि के लोग भी नीलम रत्न धारण कर सकते है. वो भी शनि की दशा में.. धन और भाग्य में वृद्धि करेगा. तथा धर्म में रूचि उत्पन्न करेगा.
कर्क राशि :- इस राशि वालो के लिए शनि अशुभ ग्रह है. इसका रत्न कदापि धारण नहीं करना चाहिए. आयु को क्षीण करेगा. धन के क्षेत्र में कष्ट तथा हानि देगा. साझेदारी के कार्यों में दुखदायी होगा.पति पत्नी में अलगाव पैदा करेगा. पति या पत्नी के लिए कष्टकारी भी सिद्ध होगा.
सिंह राशि :-- इस राशि के लोगो को नीलम रत्न नहीं धारण करना चाहिए. क्योंकि इस धारण करने से शत्रु सिर उठाएँगे. धन की कमी रहेगी. पति या पत्नी की आयु के लिए कष्टकारी होगा. पेट तथा अंतड़ियों से सम्बंधित रोग उत्पन्न होंगे.
कन्या राशि :-- इस राशि वालो को नीलम रत्न धारण करने के लिए ज्योतिषी से परामर्श लेना अति आवश्यक है. यदि नीलम रत्न धारण करेंगे तो स्वास्थ्य की हानि करेगा. और बच्चो से वैमनस्यता रहेगी.शत्रु हावी होने लगते है. पेट से सम्बंधित रोग देगा--मीन राशि :-- इस राशि के लोगों के लिए सदैव ही लाभकारी होगा. यदि मूंगा रत्न पुखराज रत्न के साथ धारण करे तो भाग्य में उन्नति, धन प्राप्ति, परिवार को सुख देगा..........
अब हम पन्ना, रत्न के बारे में जानकारी प्राप्त करेंगे......
मेष राशि :-- इस राशि के व्यक्ति को पन्ना रत्न कभी भी धारण नहीं करना चाहिए.यदि इस राशि का व्यक्ति पन्ना धारण करता है तो यह बुध ग्रह के बुरे प्रभाव को बढ़ा देगा, और अनेक प्रकार के कष्टों का सामना करना पड़ेगा.
वृष राशि :-- इस राशि के व्यक्ति पन्ना रत्न धारण कर सकते है.इसे धारण करने से सुख-समृद्धि, धन, ऐश्वर्य, प्रतिष्ठा तथा सन्तान सुख की प्राप्ति होती है.और विद्या के लिए अति शुभ है. भाग्य में उन्नति और लाभकारी फल देता है.
मिथुन राशि :-- इस राशि वालों को पन्ना रत्न धारण करना अति शुभ है. इसे धारण करने से मानसिक शान्ति, माता का सुख, शारीरिक सुख की प्राप्ति होती है. तथा वाहन आदि के सुख का भी द्योतक है. अत: यह लाभकारी तथा शुभ है. पन्ना पहनने से मिर्गी के दौरे भी नहीं पड़ते है.
कर्क राशि :- इस राशि वाले को पन्ना धारण करना अति अमंगलकारी है. पन्ना रत्न धारण करने से भाइयो के सुख में कमी, माता से कष्ट, निश्चय ही अशुभ फल की प्राप्ति होती है.
सिंह राशि :-- इस राशि वालो को पन्ना रत्न धारण करना अति कल्याणकारी सिद्ध होगा. यह इन्हें आर्थिक लाभ, व्यवसाय में लाभ व सफलता, सन्तान सुख और प्रतिष्ठा देगा. ---वृष राशि :-- इस राशि वालो को शनि रत्न नीलम शुभ फलदायक होगा.यह रत्न धारण करने से धन मान और भाग्य की वृद्धि होगी.छोटे भाई की आयु में वृद्धि करेगा. पिता की आयु और स्वास्थ्य में वृद्धि करेगा. आपके स्नायुओं को मजबूत करेगा. राज्य से कृपा प्रदान होगी. उच्चाधिकारियों से लाभ प्रदान करवाएगा. इस राशि वाले इसे हीरा के साथ भी धारण कर सकते है अति लाभदायक सिद्ध होगा.----आपकी राशि और भाग्य रत्न..---
हमारे जीवन में नौ रत्नों का बहुत महत्व है. इनको धारण करने से हम अपने भाग्य के रास्ते की बाधा को काफी हद तक दूर करने में सक्षम हो सकते है.हमारी जन्म राशि और लग्न, अपने अन्दर सभी तरह के गुण-दोषों को लिए हुये है, जैसे आयु से सम्बंधित, स्वास्थ्य से इसका गहरा संबंध है.धन का यह प्रतिनिधित्व करती है. यश प्राप्ति में सहायक व काम धंधे की परिचायक, हमारा आचार-व्यवहार तथा विचारों का आदान प्रदान, इन सभी व्यापक गुणों की दृष्टि में रखते हुये हमें राशि(लग्न) से सम्बंधित रत्न धारण करना चाहिए राशि से सम्बंधित रत्न को मुख्य रत्न कहते है. कुछ रत्न ऐसे है, जो हमारे कष्टों का निवारण करते है. और कुछ रत्न ऐसे है, जो हमे कष्ट पंहुचाते है. यह जान लेना अति आवश्यक है कि आप जिस रत्न को धारण करने जा रहे है, कंहीं वह आपके लिए कष्टकारी तो नहीं? हम आपको सभी बारह राशियों(लग्न) के रत्नों के बारे में जानकारी देंगे कि कौन व्यक्ति अपनी राशि व लग्न के अनुसार कौन कौन से रत्न धारण कर सकता है.

अब हम माणिक्य रत्न के बारे में जानकारी प्राप्त करेंगे......
मेष राशि :-- मेष राशि मंगल की राशि है. मेष राशि का व्यक्ति बुद्धि बल प्राप्त करने आत्मोन्नति, सन्तान सुख, प्रसिद्धि, राज्य कृपा के लिए माणिक्य धारण कर सकता है. सूर्य की महादशा में माणिक्य श्रेष्ठ फलदायक होता है.
वृष राशि :-- इस राशि के व्यक्ति को माणिक्य नहीं धारण करना चाहिए. क्योंकि यह रत्न वृष राशि के व्यक्ति के लिए सूर्य की महादशा, अंतर्दशा आदि गोचर में अशुभ फल देगा.
मिथुन राशि :-- मिथुन राशि के व्यक्ति को माणिक्य रत्न सिर्फ सूर्य की दशा में ही धारण करना चाहिए वैसे कभी भी धारण नहीं करना चाहिए.
कर्क राशि :- इस राशि के व्यक्ति को माणिक्य रत्न धारण करना चाहिए. यह धन के अभाव को दूर करने में सहायक होगा. तथा आंखों के कष्ट में भी लाभकारी होगा.
सिंह राशि :-- इस राशि के व्यक्ति को माणिक्य अवश्य धारण करना चाहिए. शुभ फलदायक होगा. इस राशि वाले को जीवन भर माणिक्य लाभ ही लाभ प्रदान करेगा. इसे धारण करने से शत्रुओ पर विजय भी मिलती है. व मानसिक संतुलन बना रहता है. शारीरिक स्वास्थ तथा आत्मबल मिलता है.---कन्या राशि :-- उस राशि वालो को माणिक्य सदैव हानिकारक व कष्टकारी होगा. भयंकर दुर्घटना व नेत्र विकार से पीड़ित होने की संभावना बनी रहेगी.
तुला राशि :-- इस राशि वाले को केवल सूर्य की दशा में ही माणिक्य धारण करना चाहिए, जो कि लाभ के लिए शुभ होगा.
वृश्चिक राशि :-- इस राशि के व्यक्ति को माणिक्य धारण करना चाहिए क्योंकि यह राशि मंगल की है अत: धारण करने से राज्य कृपा, प्रतिष्ठा, नौकरी में सफलता प्राप्त होगी.
धनु राशि :-- इस राशि वाले को माणिक्य धारण करना शुभ होगा यह भाग्य की वृद्धि में सहायक होगा.
मकर राशि :-- इस राशि वाले को भूल कर भी मानिक्या नहीं धारण करना चाहिए. क्योंकि यह उसे शारीरिक कष्ट, रोग दुर्घटना आदि परेशानी दे सकता है.
कुम्भ राशि :-- ऐसे व्यक्ति को माणिक्य पहनना तो क्या इससे दूर दूर रहना चाहिए. वरना भारी हानि करेगा. पति या पत्नी दोनों के लिए हानिकारक रहेगा.
मीन राशि :-- इस राशि के व्यक्ति माणिक्य अपनी दशा सूर्य की दशा में धारण कर सकते है. जो रोगों से छुटकारा दिलवाने में सहायक सिद्ध होगा .......
कन्या राशि :-- इस राशि वाले लो पन्ना रत्न धारण करना चमत्कारी रूप से लाभकारी सिद्ध होगा. इसके धारण करने से आयु में वृद्धि, शारीरिक सुख, कर्म, व्यवसाय, राज्य कृपा, प्रतिष्ठा और पिता को सुख प्राप्त होगा. भाग्य में कई अवसर उन्नति के आते रहेंगे.

तुला राशि :-- इस राशि के व्यक्ति के लिए पन्ना रत्न धारण करना शुभ माना जाता है. इसे धारण करने से भाग्य में उंनती के अवसर बार बार मिलेंगे. धर्म के प्रति आस्था बढ़ती है. धन की प्राप्ति सरलता से होगी. यदि पन्ना को हीरे के साथ लगा कर इस राशि के लोग धारण करे तो चमत्कारी लाभ प्राप्त होगा.
वृश्चिक राशि :-- इस राशि के लोगो को पन्ना रत्न किसी विद्वान ज्योतिषी से परामर्श करके धारण करना चाहिए. पर बुध की सिर्फ महादशा में ही धारण कर सकते है. सोच समझ कर और कुण्डली को दिखा कर ही इसे धारण करे.
धनु राशि :-- इस राशि वालो को कभी भी पन्ना धारण नहीं करना चाहिए. क्योंकि पन्ना धारण करने से व्यक्ति में दुषिता आती है.जो कि कष्टकारी साबित होता है.
मकर राशि :-- इस राशि वालो को पन्ना धारण करना सदा ही लाभकारी सिद्ध होगा.पन्ना रत्न यदि नीलम के साथ या चाहे तो अकेला पन्ना रत्न भी धारण कर सकते है. इसे धारण करने से भाग्यवर्धक, यश, शारीरिक सुख की प्राप्ति होगी.
कुम्भ राशि :-- इस राशि के लोग पन्ना रत्न धारण कर सकते है. जो इनके लिए फलदायी होगा. पन्ना रत्न को हीरा या नीलम के साथ भी धारण कर सकते है.इससे शारीरिक सुख, आर्थिक लाभ तथा सन्तान के सुख की प्राप्ति होगी. मन में स्थिरता और शान्ति प्राप्त होगी.
मीन राशि :-- मीन राशि के व्यक्ति केवल बुध की दशा में ही पन्ना रत्न धारण कर सकते है. जो इन्हें आर्थिक दृष्टि से लाभ करेगा और माता के सुख का भी लाभ प्राप्त होगा.....मेष राशि :-- इस राशि के व्यक्ति को पुखराज रत्न धारण करना अति शुभ होगा. पुखराज धारण करने से भाग्य में वृद्धि होगी. बल, बुद्धि, विद्या तथा ज्ञान की प्राप्ति होगी. कल्याणकारी होगा. समृद्धि देने वाला होगा.
वृष राशि :-- इस राशि के लोगो के लिए पुखराज रत्न धारण करना अमंगलकारी है. इसे भूल कर भी ना पहने. परामर्श करके धारण करना चाहिए.
मिथुन राशि :-- इस राशि के व्यक्ति केवल वृहस्पति की दशा में ही पुखराज रत्न धारण कर सकते है. धारण करने से पहले किसी विद्वान ज्योतिषी से प्रानार्ष करना अनिवार्य है.
कर्क राशि :- इस राशि के लोगो के लिए पुखराज धारण करना अति उत्तम होगा. इसे धारण करने से आर्थिक लाभ तथा ज्ञान में प्रचुर वृद्धि होगी. पिता तथा सन्तान के सुख की प्राप्ति होती है. यदि मोती और पुखराज दोनों पहने तो चमत्कारी लाभ होगा.
सिंह राशि :-- इस राशि के लोगो के लिए पुखराज रत्न पहनना अति कल्याणकारी सिद्ध होगा. सन्तान का सुख प्राप्त होगा. विदेश में व्यापार से लाभ होगा.
कन्या राशि :-- इस राशि वालो को पुखराज रत्न धारण नहीं करना चाहिए. क्योंकि धारण करने से आर्थिक कष्ट उत्पन्न करेगा.
तुला राशि :-- इस राशि वालो के लोगो के लिए पुखराज रत्न अति अशुभ माना गया है. पुखराज धारण करने से रोग बढ़ेंगे. शत्रु हावी होंगे, भाई बहन के सुखो में कमी होगी तथा मानसिक चिंता परेशान करेगी.
वृश्चिक राशि :-- इस राशि वालो के लिए पुखराज रत्न शुभ अत्यंत समृद्धिदायक तथा खुशियाँ प्रदान करने वाला होगा. पुत्रों को उन्नति देगा. राज्य कृपा तथा प्रतिष्ठा में वृद्धि करेगा. पुत्रों को नाम, प्रतिष्ठा, यश प्राप्त होगा. इस राशि वालों को पुखराज जीवन भर धारण करना चाहिए.
धनु राशि :-- इस राशि वालों के लिए पुखराज रत्न सबसे श्रेष्ठ माना गया है. इसे धारण करने से शारीरिक सुख की प्राप्ति, वाहन सुख, माँ का सुख, तथा सभी प्रकार के आर्थिक लाभ प्राप्त होंगे. इस राशि वाले लोगो को पुखराज आजीवन धारण करना चाहिए. जो कि लाभकारी सिद्ध होगा.
मकर राशि :-- इस राशि के लोगो के लिए पुखराज रत्न अशुभ होगा कभी भी पुखराज ना धारण करे. इसके कारण शारीरिक कष्ट, पिता को कष्ट, तथा रोगों को बढ़ाएगा. जीवन में कभी भी धारण नहीं करना चाहिए.
कुम्भ राशि :-- इस राशि वालों लो पुखराज रत्न ज्योतिषी से परामर्श करके ही धारण करना चाहिए. कुछ रत्न विशेषज्ञ इस राशि वालों को पुखराज रत्न धन हेतु भी पहनाते है कई बार लाभ देता है किन्तु शारीरिक कष्ट की उत्पत्ति कर देगा.
मीन राशि :-- इस राशि वाले लोगो के लिए पुखराज रत्न आजीवन धारण करना चाहिए. इनके लिए शुभ तथा कल्याणकारी माना जाता है. धन-समृद्धि में वृद्धि करेगा. स्वास्थ्य ठीक रखेगा. विद्या बुद्धि में उन्नति देगा. पति या पत्नी के लिए शुभकारी होगा. राज्य कृपा प्राप्त होगी. उच्च पद प्राप्त होने की संभावना बड़ेगी. सभी मनोकामना पूर्ण होती है......
अब हम हीरा, रत्न के बारे में जानकारी प्राप्त करेंगे......
मेष राशि :-- इस राशि के व्यक्तिओं को हीरा कभी भी धारण नहीं करना चाहिए. क्योंकि इसे धारण करने से धन तथा साझेदारी के कार्यों में कष्टकारी तथा आयु की कमी होगी. पति – पत्नी में अलगाव पैदा करेगा तथा वाणी में विकार पैदा करेगा, व्यभिचारी बनायेगा.
वृष राशि :-- इस राशि वाले व्यक्ति को हीरा रत्न शुभकारी सिद्ध होगा. स्वास्थ्य की वृद्धि करेगा. आयु वृद्धि के लिए शुभ होगा. स्त्री या पति के स्वास्थ्य में सुधार होगा. ऋण को कम करने में सहायक होगा. शत्रु बाधा कम होगी. भोग विलास की सामग्री देगा. आंखों की बीमारीओं का शमन करेगा.
मिथुन राशि :-- इस राशि के लोगो को हीरा रत्न धारण करने से धन और भाग्य की वृद्धि होगी. बुद्धि में वृद्धि करेगा. भोग विलास, रति की प्राप्ति, पुत्र की वृद्धि करेगा. स्वास्थ्य में सुधार करेगा. समृद्धिदायक साबित होगा.
कर्क राशि :- इस राशि के लीगी को हीरा रत्न धारण नहीं करना चाहिए. इसे धारण करने से माता तथा पिता की आयु व स्वास्थ्य को क्षीण करेगा. खून से सम्बंधित रोग पैदा करेगा. पत्नी या पति से वैमनस्यता बढ़ाएगा. अपयश देगा.
सिंह राशि :-- इस राशि के लोगो को हीरा रत्न नहीं धारण करना चाहिए. इसे धारण करने से राज्य से सम्बंधित लोगो से अपमानित होना पड़ सकता है. बहनों के लिए कष्टकारी हो सकता है. स्त्रियों से वैमनस्यता बढ़ाएगा. स्वास्थ्य हानि करेगा.
कन्या राशि :-- इस राशि के लोगो को हीरा रत्न धारण करने से भाग्य में वृद्धि होगी. राज्य कृपा प्राप्त होगी. धन की विशेष वृद्धि देगा. गायन शक्ति में वृद्धि होगी. रोगों का शमन करेगा. विद्या में उन्नति प्राप्त होगी.

कोई टिप्पणी नहीं: