स्तम्भ menu

Drop Down MenusCSS Drop Down MenuPure CSS Dropdown Menu

गुरुवार, 27 नवंबर 2014

muhavra / kahawat salila: naak

मुहावरे / कहावत सलिला: नाक 

नाक ऊँची होना = सम्मान बढ़ना। बिटिया के प्रथम आने से परिवार की नाक ऊँची हो गयी  
नाक ऊँची रखना = महत्व दिखाना। ब्राम्हणों को अपनी नाक ऊँची रखने की आदत है।  
नाक कटना = प्रतिष्ठा कम होना। गलत फैसलों से खाप पंचायतों की नाक कट गयी है 
नाक घुसेड़ना = हस्तक्षेप करना। बच्चों के बीच में नाक घुसते रहने से बड़ों का सम्मान घटता है  
नाक बचाना =  असामाजिक तत्वों से नाक बचाकर निकलना सही नीति है 
नाक रखना = मान रखना। प्रतियोगिता जीतकर बच्चों ने विद्यालय की नाक रख ली। 
नाक का बाल होना = खुशामदी कर्मचारी अधिकारी की नाक का बाल हो जाता है 
नाक का सवाल = प्रतिष्ठा का प्रश्न। नाक का सवाल हो तो गीदड़ भी शेर से भीड़ जाता है 
नाक पर मख्खी बैठना = प्रतिष्ठा नष्ट होना।  
नाक पर मक्खी न बैठने देना = सम्मान पर आंच न आने देना। 
नाक में दम करना = तंग करना। भारतीय सेना ने आतंकवादियों की नाक में दम कर दी  
नाक में नकेल डालना = नियंत्रित करना। उददण्डता रोकने के लिए नाक में नकेल डालना ही पड़ती है
नाक रगड़ना = दीनता दिखाना।कुकर्म करोगे तो नाक भी रगड़ना पड़ेगी। 
नाक के नीचे = बहुत निकट। नाक के नीचे चोरी हो गयी और पुलिस कुछ नहीं कर सकी
नाकों चने चबवाना = परेशान करना। अत्याधुनिका बहू ने सास-ससुर को नाकों चने चबवा दिये। 
छंद: नाक के बाल ने, नाक रगड़कर, नाक कटाने का काम किया है 
नाकों चने चबवाए, घुसेड़ के नाक, न नाक का मान रखा है 
नाक न ऊँची रखें अपनी, दम नाक में हो तो भी नाक दिखा लें 
नाक पे मक्खी न बैठन दें, है सवाल ये नाक का, नाक बचा लें  
नाक के नीचे अघट न घटे, जो घटे तो जुड़े कुछ राह निकालें 
नाक नकेल भी डाल सखे, न कटे जंजाल तो बाँह चढ़ा लें
*

1 टिप्पणी:

sangeeta puri ने कहा…

आप तो नए नए प्रयोग करते रहते हैं. भाषा पर पूरा नियंत्रण है आपका ....