स्तम्भ menu

Drop Down MenusCSS Drop Down MenuPure CSS Dropdown Menu

रविवार, 17 जुलाई 2016

laghukatha

लघुकथा
खतरा
*
जोरदार बरसात, अँधेरी रात, डरती बचती चली जा रही थी एक कुतिया अकेली। कुछ कुत्तों को देखकर डरी-सहमी सोचने लगी आगे जाएया न जाए?
उसे ठिठका देख एक कुत्ता बोल पड़ा- 'आप बेखटके अपने रास्ते चले जाएँ, यहाँ कोई पुलिस थाना या आदम जात नहीं है।
***

कोई टिप्पणी नहीं: